तो आप कब बन रहे हैं “शाकाहारी”

शाकाहारी यानी vegetarian होने को लेकर दुनिया बड़ी तेजी से आगे बढ़ रही है. दरअसल, लोगों को समझ आने लगा है कि vegetarian रहकर ज्यादा Healthy life जी जा सकती है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया में सबसे अधिक शाकाहारी लोग कहां मिलते हैं. जरूर India ही आपके मन में आएगा और जोकि सच भी है. जी हां, India में सबसे ज्यादा वेजीटेरियन मिलते हैं. यहां मांस मच्छी ना खाने वालों की संख्या लगभग 50 करोड़ है. जोकि India की कुल population की 40% है.

India में यह आबादी धार्मिक आस्थाओं की वजह से भी ज्यादा है. India में हिंदू, जेन और बौद्ध धर्म के लोग मांस—मच्छी का सेवन अमूमन नहीं करते हैं. अगर बात करें, India के अलावा किस देश में सबसे ज्यादा वेजीटेरियन पाए जाते हैं, तो उनमें अगला नाम मैक्सिको का है. 12.7 करोड़ की आबादी वाला मैक्सिकों में लगभग ढाई करोड़ लोग नॉन वेज फूड नहीं खाते हैं. यह अपने आप में काफी बड़ी आबादी है.

ब्राजील में Vegetarians कुछ इसी के आसपास है. साल 2020 तक ब्राजील में vegetarian लोगों की संख्या लगभग 3 करोड़ थी. हालांकि, यहां आबादी मैक्सिको से ज्यादा है, लेकिन ब्राजील में आबादी 21 करोड़ है और ​मैक्सिकों की पॉपुलेशन लगभग साढ़े बारह करोड़, जिस लिहाज से ब्राजील में vegetarian लोगों का प्रतिशत मैक्सिकों से कम है.

United Nations की FAO यानी Food and Agriculture organization के अनुसार, India में शाकाहारी लोगों की आबादी बाकी दुनिया के कुल टोटल से भी कहां ज्यादा है. FAO बताती है कि भारत में ब्राह​मण, लिंगायत, जेन, बोद्ध के अलावा 3 प्रतिशत मुसलमान भी Vegetarian जीवन जीना पसंद करते हैं.

​रजिस्टरार जनरल आफ इंडिया के आंकड़ों के अनुसार, राजस्थान में सबसे अधिक लगभग 75% लोग vegetarian हैं, इसके बाद हरियाणा में 70%, पंजाब में 66%, गुजरात में 61%, मध्यप्रदेश में 50%, उत्तरप्रदेश में 47%, महाराष्ट्र में 40% और दिल्ली में 39% है, जो नॉन वेज फूड नहीं खाते हैं.

जम्मू कश्मीर में वेजि​टेरियन लोगों की आबादी लगभग 31.50%, उत्तराखंड में 27%, कर्नाटक में 21%, असम में 20%, छत्तीसढ़ में 18%, बिहार में 8%, झारखंड और केरल में 3-3%, ओडिशा में 2.65%, तमिलनाडू में 2.35%, आंध्रा में 1.75%, पश्चिम बंगाल में 1.4% और तेलांगाना में 1.3% लोग वेजिटेरियन हैं.

वेजिटेरियन होने को बढ़ावा देने के लिए दुनिया में कई फेस्टिवल भी किए जाते हैं. इन फेस्टिवल का नाम वेगनमेनिया, वेजीवल्ड और वेजी प्राइड है, जहां आम लोग आते हैं और वेजिटेरियन फूड का लुत्फ उठाते हैं. साल 2018 में केंद्र सरकार की मिनिस्ट्री आफ टूरिज्म ने भी होटल मेनेजमेंट से जुड़े इंस्टीट्यूट Institute of Hotel Management Catering Technology & Applied Nutrition में स्टूडेंट्स के लिए वेजीटेरियन फूड बनाने का आप्शन दिया है.

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer