इन दिनों व्रत रखना क्यूं जरुरी होता है, यहां जानिए

जहां एक तरफ कोरोना वायरस की महामारी से पूरा देश लॉक डाउन हो चुका है, वहीं दूसरी ओर आज से नवरात्रे भी शुरू हो रहे हैं. मेडिकल साइंस कहती है कि साल में दो बार मौसम में बदलाव के दौरान उपवास रखना आपके शरीर के लिए लाभकारी होता है. जब मौसम बदल रहा होता है तब शरीर की मेटाबॉलिक प्रक्रिया को कंट्रोल करने के लिए सावधानी रखनी होती है. इसे देखते हुए व्रत का बेहद महत्व होता है. अगर आप व्रत रखते हैं तो आप इस बदलते मौसम में कई बिमारियों से बच सकते हैं. यही नहीं 9 दिन या इसी तरह व्रत रखने से कोशिकाओं को भी एनर्जी मिलती है. व्रत रखने के और क्या क्या फायदे होते हैं, चलिए आपको बताते हैं.

बदलते मौसम में होता है मेटाबॉलिक कंट्रोल

इन दिनों मौसम में तेजी से बदलाव होता है. ऐसे में मेटाबॉलिक प्रक्रिया में उल्टा असर पड़ता है. दरअसल, मौसम में बदलाव के चलते शरीर में बदलते हार्मोन्स के बीच तालमेल बनाना मुश्किल होता है. खासतौर से डाइजैशन सिस्टम में परेशानी आती है, जिससे तला भुना खाना ठीक से पच नहीं पाता। ऐसे में हैवी डाइट अवॉयड की जाती है.

इसके अलावा व्रत रखने से ब्रेन सेल्स भी मजबूत होते हैं. आयुर्वेद के मुताबिक, पेट की समस्याओं को कंट्रोल करने के साथ साथ कैलोरी कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है. इतना ही नहीं डाइबिटीज भी कंट्रोल की जा सकती है. आयुर्वेद का कहना है कि 9 दिन का व्रत सही से रखने पर टॉक्सिक एलिमेंट कम होते हैं. हैल्दी डाइट और ज्यादा पानी पिने से शरीर में मौजूद टॉक्सिक एलिमेंट बाहर निकलने में मदद मिलती है

अब बात करते हैं व्रत में क्या बरतें सावधानी

व्रत का मतलब यह नहीं कि आपका पेट आपको बार बार भूख लगने की जानकारी दे रहा है और आप व्रत के नाम पर उसकी कॉल को रिजेक्ट करने का काम करें. डॉक्टरों की मानें तो पेट खाली नहीं रखना चाहिए थोड़े थोड़े समय पर फल, जूस, दूध या व्रत से जुड़ी चीजों को खाते या पीते रहें। इसके अलावा व्रत के दौरान नीबू पानी, नारियल पानी और विटामिन ए के फल जरूर लें. बहुत ज्यादा कॉफ़ी या चाय और मिठाई लेने से बचें. ज्यादा मीठा खाने से आपके शरीर में सोडियम की कमी हो सकती है.

क्या क्या खाएं और क्या नहीं

आमतौर पर देखने को मिलता है कि व्रत के दौरान हम ज्यादा ज्यादा खाना खाने लग जाते हैं. कहीं कहीं तो देखने को मिलता है कि व्रत के दिनों में आलू की टिक्की बनाकर तेल में फ्राई करके लंच किया जाता है. लेकिन ऐसा करने से आपका व्रत रखना ज्यादा नुकसानदायक होता है. कैलोरी तो बढ़ती ही है, साथ में फैट भी बढ़ता है. इतना ही नहीं ऐसे खाने को पचाने के लिए एनर्जी भी ज्यादा लगती है और शरीर के दूसरे अंग भी प्रभावित होते हैं. इसलिए साबुदाना खाएं जिससे तुरंत एनर्जी मिलती है. इसके अलावा मखाना खाइये, जिससे आपका हीमोग्लोबिन बढ़ता है. इन दोनों ही स्वादिष्ट बनाने के कई तरीके महिलाओं को पता होते हैं, जिसे हम बताने की जरूरत नहीं है. इसके अलावा आप पनीर, खीरा, दही आदि का सेवन भी कर सकते हैं.

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer