बिस्तर तक पहुंची कोरोना वायरस की मार

कोरोना वायरस महामारी का असर अब आम लोगों के बिस्तर तक पहुँच गया है. वैश्विक स्तर पर यह महामारी जितनी बड़ी समस्या बनकर सामने आई है. उतनी नहीं तो उससे कम भी नहीं, यह समस्या लॉक डाउन की वजह से घर में बैठे लोगों पर भी दिखाई देने लगी है.

जहां महामारी फैलने से पहले कपल को एक दूसरे के साथ वक़्त बिताने के लिए मौके ढूंढ़ने पड़ते थे, वहीं अब लॉक डाउन की वजह से घर में एक साथ रहने के बावजूद कपल अपनी सेक्स लाइफ सुधार नहीं पा रहे हैं. विदेशी मैगज़ीन “वोग” ने आम लोगों से जब उनकी सेक्स लाइफ के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि वो शुरूआती दिनों में खुश थे कि उन्हें अब कोरोना वायरस की वजह से साथ में वक़्त बिताने का मौका मिलेगा, लेकिन घर में रहकर समस्याएं पहले की तुलना में बढ़ गई हैं. एक तरह आर्थिक मंदी और नौकरी खोने की टेंशन लोगों को घर बैठकर खा रही है, तो वहीं घर में बच्चों का हर वक़्त होना भी कपल्स को करीब न आ पाने एक और वजह बन गई है.

38 साल की निक्की बताती हैं कि मैंने सोचा था कि मैं अपने पति के साथ ढेर सारा वक़्त बिताउंगी और हम अनगिनत बार सेक्स भी करेंगे। लेकिन जब से हम घर में हैं, हम सिर्फ दो बार ही सेक्स संबंध बना पाए. ऐसे ही अपने बॉयफ्रेंड के साथ पांच साल से रिलेशनशिप में रहने वाले निकोलस बताती हैं कि जब से न्यूयोर्क लॉक डाउन हुआ है, तब से हमारी ड्रिंक करने की आदत बढ़ी है, जबकि सेक्स लाइफ कम हो गई है. निकोलस का कहना है कि ऐसा चिंता के कारण हो रहा है.

अच्छी सेक्स लाइफ के लिए आपको टेंशन मुक्त होना जरुरी है, जबकि घर रहकर यह बढ़ गई है. कुछ लोगों की सेक्स लाइफ में सुधार न हो पाने की वजह यह भी सामने आ रही है कि घर रहकर उन्हें “वर्क फ्रॉम होम” के अलावा अपने बच्चों का अब ज्यादा ध्यान रखना होता है. पहले बच्चे स्कूल जाने के साथ साथ अपनी अलग अलग एक्टिविटी में व्यस्त रहते थे, लेकिन अब बच्चे हर वक़्त घर में रहते हैं. जिस कारण उन्हें बच्चों की दिनचर्या बनाने में भी कड़ी मशक्क्त करनी पड़ती है.

 

 

Content Source : www.dailymail.co.uk

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer