सोयाबीन चाप खाते हैं? उसके फायदे तो जान लीजिए

सोयाबीन चाप का आजकल बहुत चलन है. जहां देखो, वहां सोयाबीन की चाप से बनी कई तरह की डिशेज कार्नर मिल जाता है. सोयाबीन मसाला चाप, मलाई चाप, तवा चाप, हरयाली चाप, कढ़ाई चाप और भी कई तरह की वैरायटी खाने को मिल जाती है. स्वाद तो इसका लोगों को सर चढ़कर बोलता है. नॉन- वेज खाने की बजाय लोग इसी को ज्यादा खाना पसंद करते हैं.

इसीलिए आज हम आपको सोयाबीन के फायदे बताने जा रहे हैं. सोयबीन से बना और क्या- क्या बनाकर खा सकते हैं, ये भी जानने के लिए पढ़िए हमारी यह स्पेशल रिपोर्ट

सोयाबीन में क्या – क्या खूबियां होती हैं

सोयाबीन एक ऐसा पौषिटक आहार है, जिसमें लगभग सभी गुण होते हैं. प्रोटीन, मिनरल, आयरन, फैट, विटामिन-बी, आदि कई तरह के तत्व होते हैं, जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं. इसमें कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी कम होती है. सोयाबीन को खाने से गैस की समस्या और कब्ज की बीमारी नहीं होती। इतना ही नहीं, बच्चों के विकास के लिए भी सोयाबीन काफी फायदेमंद होता है.

सोयाबीन खाने से यह फायदे आपको दिखने लग जाएंगे :

  • यह ब्लड प्रेशर को बनाए रखता है.
  • पाचनशक्ति बढ़ाता है.
  • कब्ज दूर करता है.
  • सोयाबीन कोलोस्ट्रोल की मात्रा कम करता है, जिससे दिल के रोग दूर रहते हैं.
  • वजन घटाने में भी सोयाबीन मदद करता है.

बच्चों के लिए काफी फायदेमंद होता है – सोयाबीन

सोयाबीन बच्चों के लिए विशेष उपयोगी होता है. बढ़ती उम्र में संतुलित खाना खाना बहुत जरूरी होता है. ऐसे में क्या खाएं और क्या ना खाएं, यह बच्चों के लिए सोचना होता है. सोयाबीन में वो सभी गुण होते हैं, जो बच्चों के लिए लाभदायक होते हैं. आप गाय और भैंस के दूध की बजाय सोयाबीन से बना दूध, दही, सब्जी, चाप आदि बच्चे को दे सकते हैं. बच्चे में कोलेस्ट्रॉल भी नहीं बढ़ेगा.

कैसे बनाएं सोयाबीन का दूध : सोयाबीन को लगभग दस घंटे पानी में भिगों दें. फिर इसे बारीक़ पीसकर उसमें समुचित मात्रा में पानी मिलाएं, ताकि यह दूध जैसा हो जाए. इसका स्वाद ठीक करने के लिए इसमें दो से तीन इलायची मिला दें और आधे घंटे तक उबलने के लिए रख दें. इससे आपका पौष्टिक दूध तैयार हो जाएगा।

सोयाबीन की चटनी : भिगोये हुए सोयाबीन में स्वादानुसार नमक और मिर्च आदि मिलाकर पीस लें और इस चटनी को आप खाने के साथ प्रयोग कर सकते हैं.

सोयाबीन का तेल के फायदे : सरसों और मूंगफली की तरह सोयाबीन का तेल भी निकाला जाता है. इसके फायदे कई होते हैं. सोयाबीन का तेल लगाने से बाल काले होते हैं. सोयाबीन के तेल में कुछ बूंद नीबू का रस मिलाकर लगाने से मुंहासे ठीक हो जाते हैं.

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer