चिंता ना करें 22 राज्य-केंद्र शासित प्रदेश सुरक्षित हैं.

दुनिया को कोरोना की मार झेलते झेलते चार महीने होने जा रहे हैं, ऐसे में 33 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों से बना भारत गणराज्य के 7 राज्यों को छोड़ दें तो भारत के हालात बाकि देशों की तुलना में काफी सही हैं. आज यानी 10 मई की सुबह तक देश में एक्टिव केस का आंकड़ा 41,459 हो गया है, जबकि मरने वालों की संख्या 2102 है. भारत के 33 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में से 5 राज्य कोरोना मुक्त हो चुके हैं, वहीं 8 में कोरोना का कहर ना के बराबर है.

यह राज्य कोरोना मुक्त हैं

कोरोना से मुक्त हो चुके पांच राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में मिजोरम, मणिपुर, गोवा, अरुणाचल प्रदेश और अंडमान-निकोबार हैं. इनमें कुल 44 केस हुए थे. सभी ठीक होकर घर चले गए. अच्छी खबर यह भी रही कि यहां कोरोना से किसी की मौत नहीं हुई. हालांकि, फिर भी कोरोना से लड़ने के लिए सचेत रहना बेहद जरूरी है.

यहां नाम मात्र के लिए है – कोरोना

इसके अलावा कम सक्रमित वाले 8 राज्य – मेघालय, पुडुचेरी, हिमाचल प्रदेश, लद्दाख, छत्तीसगढ़, असम, उत्तराखंड, दादर-नागर हवेली और दमन-द्वीप हैं. यहां कुल 307 केस आए हैं. इनमें अभी तक 7 की मौत हो गई है, जबकि एक्टिव केस 101 हैं.

यहां भी हालात कंट्रोल में है

कुछ राज्य ऐसे भी हैं, जहां आंकड़ा तो 100 के पार है, लेकिन काफी हद तक कंट्रोल में चल रहा है. इनमें सबसे आगे केरल है. केरल ने अपनी दशा सुधार ली है. केरल में कुल 506 मरीज हुए, जिनमें 485 ठीक हो चुके हैं. 4 की मौत हुई और 17 एक्टिव केस हैं. आपको बता दें कि केरल से ही देश में कोरोना की शुरूआत हुई थी. इसके अलावा हरियाणा, बिहार, झारखंड, त्रिपुरा, उड़ीसा, कर्नाटक, चंडीगढ़ और जम्मू एंड कश्मीर हैं. इन राज्यों में आंकड़ा 1000 से नीचे है. इनमे कुल एक्टिव केस 2149 हैं, जबकि 65 की कोरोना से मौत हो चुकी है.

यहां है कोरोना का खतरा

महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली टॉप 3 राज्य हैं, जिसके बाद तमिल नाडु, राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, आंध्रप्रदेश, पश्चिम बंगाल, पंजाब और तेलंगाना हैं. इनमें कुल एक्टिव केस 39181 हैं और मरने वालों का आंकड़ा 2030 है.

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer