2006 में बनी थीं दोस्त, 1 घंटे में ही Twitter पर मिल गईं

हाल ही में सोशल मीडिया की पॉवर का एक ताजा उदाहरण सामने आया है। ट्विटर पर एक महिला ने अपनी बिछड़ी हुई दोस्त को ढूंढने के लिए मदद मांगी और 11 घंटे के अंदर ट्विटर ने उनकी दोस्त को मिलवा दिया। यह कहानी ब्रियााना नाम की एक महिला से जुड़ी है, जो साल 2006 में एक क्रूज के सफर के दौरान एक लड़की से मिली थीं। सफर के भीतर ही वे दोनों दोस्त बनीं, लेकिन दोबारा नहीं मिल पाईं।

 

ब्रियाना ने हाल ही में अपनी उस दोस्त की फोटो ट्विटर पर अपलोड की। हालांकि, ब्रियाना ने अपनी दोस्त का नाम नहीं लिखा और सिर्फ इतना कहा कि वह उसे बेहद याद कर रहीं हैं और बस से जानना चाहती हैं कि उनकी दोस्त कैसी है और आजकल क्या कर रही है।

 

 

 

जैसे ही ब्रियाना ने यह ट्विटर पर फोटो अपलोड की, वैसे ही ट्विटर पर उनकी यह फोटो वायरल हो गई और अनजान लोगों ने फोटो और ब्रियाना की यह डिमांड दुनिया भर में फैला दी। इसका फायदा यह हुआ कि मात्र एक घंटे के भीतर एक ऐसा ट्वीट आया कि सभी लोग हैरान हो गए और खुशी के मारे फूले नहीं समाएं।

 

एक घंटे के अंदर अमेरिका के एक शहर कैलीफोर्निया से हैदी नाम की एक महिला ने ट्वीट किया और ब्रियाना की वही फोटो ट्विटर पर पोस्ट की और लिखा- मैंने सुना है कि आप मुझे ढूंढ रही हो।

बस फिर क्या था, दोनों के दोबारा मिल पाने की ट्विटर पर खुशी इतनी थी कि कुछ लोगों ने खुशी के आसुंओं के साथ अपनी फोटो ट्विटर पर अपलोड भी की। एक ने लिखा – मैं तैयारी नहीं थी कि ऐसा मेरी नजरों के सामने हो जाएगा। ब्रियाना ने खुशी से लिखा – है ट्विटर, मैं अपनी दोस्त से साल 2006 में हवाई के एक डिनर क्रूज पर मिली थी। हम उस रात के लिए दोस्त बने थे, लेकिन सुबह होते ही हम अपने परिवार के साथ अपने घर चले गए और दोबारा नहीं मिल पाए।

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer