खुद को ‘Special Person’ मानते हैं करोड़पति-अरबपति। जानिए क्यूं

सोचिए आपके पास करोड़ो रुपये आ जाएं, तो क्या आप आज के दिनों को भूल जाएंगे। मन से इस वक्त जवाब यही मिलेगा कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। आप अपने बुरे वक्त को कभी नहीं भूलोगे। लेकिन ऐसा हकीकत में नहीं है। एक रिसर्च कहती है कि जब आप आम लोगों से ज्यादा अमीर हो जाते हैं, तो आप सबसे पहले खुद को स्पेशल मानने लगते हैं। इसका असर यह होता है कि आपको आम इंसान की तरह बात करने में भी तकलीफ होती है। आप खुद को एक शक्ति मान बेठते हैं। आइए बताते हैं रिसर्च और क्या-क्या कहती है।

अपना गुणगान ज्यादा करते हैं अरबपति

हालांकि, यह सच है कि जब हम किसी अरबपति को देखते हैं, तो हमें यह महसूस होता है कि वे खुद को स्पेशल मानते होंगे। हाल ही में एक स्टडी जर्मनी के 130 अरबपति लोगों पर की गई है, जिसमें पाया गया कि वे आम लोगों की तुलना में अपना ज्यादा गुणगान करते हैं और बड़ी- बड़ी हांकते हैं। इस स्टडी में सबसे अधिक बुजुर्ग ही थे, जो अरबपति की श्रेणी में आते हैं।

अरबपति संबंध-परिवार का कम ध्यान देते हैं

स्टडी के मुताबिक, खुद अरबपति कहते हैं कि उन्हें देश को स्पेशल समझना चाहिए और बाकी लोगों की तुलना में उनका ध्यान ज्यादा रखना चाहिए। वह अपने आप पर इतना ध्यान रखते हैं कि वे अपने संबंध, परिवार पर कम ध्यान रखते हैं। स्टडी से जुड़े एक्सपर्ट का कहना है कि जब उन्होंने यह पर्सनेलिटी टेस्ट 23,000 आम लोगों पर भी की, तो उन्होंने पाया कि करोड़पति-अरबपति लोगों की तुलना में आम लोग अपने परिवार, संबंधों के प्रति ज्यादा भावुक थे और उनका ध्यान रखते हैं, जबकि अरबपति सिर्फ अपना ध्यान रखते हैं।

 

Image Source: www.bankrate.com

Content Source : www.dailymail.co.uk

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer