NightBulb-Hindi-story_Aisha Karne par Chutki mai chutegi Cigarette ki Talab:

ऐसा करने पर चुटकी में छूटेगी सिगरेट की तलब

जैसे जैसे दुनिया भर में सिगरेट पीने वालों की संख्या बढ़ रही है, उसी तेजी से इसके समाधान के लिए कई कंपनियों ने अपनी दुकानें शुरू कर दी हैं। कोई च्यूिंगम खाने की बात करता है, तो कोई दवाईयों बेचकर कमाई कर रहा है। दरअसल, सिगरेट बनाने वाली कंपनियों की कमाई में कोई कमी नहीं आई है, लेकिन मार्केट में इसकी रोकथाम के लिए नए उपचार लाने वाली कंपनियों की मार्केट भी तेजी से बढ़ रही है। इसकी वजह भी यही है कि सिगरेट की लत से बचने के लिए लोग नए उपचार ढूंढते हैं। यह खबर इन्हीं के लिए है।

यह खबर एक रिसर्च पर आधारित है, जिसमें पहली बार यह बात सामने आई है कि सिगरेट पीने की लत को आप चुटकी में छुटा सकते हैं। आइए जानते हैं- 

NightBulb-Hindi-story: Aisha Karne par Chutki mai chutegi Cigarette

एस्जेटर युनिवर्सिटी द्वारा की गई रिसर्च में सामने आया है कि मात्र 10 मिनट की एक्सरसाइज से निकोटिन की तलब को कम किया जा सकता है। इससे सिगरेट छोड़ने में आसानी होती है।रिसर्चरों ने इसके लिए सबसे पहले दिमाग की फंक्शनल मैगनेटिक रिसोनेंस इमेजिंग (एफएमआरआई) किया।

उनका मकसद यह पता लगाना था कि एक्सरसाइज के बाद दिमाग में निकोटिन की तलब की कौन सी इमेज बनाती है। शोध से पता चला कि एक्सरसाइज के बाद शरीर निकोटिन की तलब आदी को नियंत्रित कर लेने में सक्षम हो जाता है।

दस लोगों को 10 मिनट तक साइकिल चलाने को कहा गया। साइक्लिंग के बाद एफएमआरआई एग्जामिन किया गया। नतीजे आश्चर्यजनक थे इन दसों को निकोटिन की तलब न के बराबर थी।

एक्सरसाइज के दौरान खून का फ्लो दिमाग में उन जगह भी तेजी से जाता है जो निकोटिन की तलब को जाग्रत करता है। खून के फ्लो के कारण निकोटिन की तलब काफी हद तक खत्म हो जाती है।

वैसे तो एक्सरसाइज से स्मोकिंग छुड़ाने के कई बार शोध सामने आए हैं। लेकिन यह पहली बार है जब इसमें दिमाग की जांच भी की गई हो। एक्सरसाइज और नॉर्मल तौर पर दिमाग की एक्टीविटी पर अध्ययन किया गया है।

यूनिवर्सिटी में इस विषय पर शोध करने वाली छात्रा केट जेन्स वान रेंसबर्ग का कहना है कि 10 से 15 मिनट की वॉक, जॉगिंग या साइक्लिंग करने से सिगरेट छोड़ी जा सकती है। यही नहीं इससे और भी कई फायदे सामने आएंगे। फिटनेस आएगी, वजन कम होगा और आपका मूड भी ठीक ठाक रहेगा।

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer