Kai Suvidhao Ka Aadhar Hai Aadhar Card | NightBilb-Hindi Blog, Story

आधार कार्ड खो गया या याद नहीं तो ऐसे लें जानकारी

अगर आपके पास आधार कार्ड नहीं है और आपको अपना आधार नंबर भी याद नहीं है, तो परेशान न हो। खो जाने या आधार कार्ड पास में न होने के बावजूद आप अपने आधार कार्ड के यूनिक 16 डिजिट नंबर का पता लगा सकते हैं। इसके लिए कुछ तरीके हैं, जिन्हें आज हम आपके सामने ला रहे हैं। यह जानकारी आपको टुकड़ों में सरकारी विभाग की अलग- अलग वेबसाइट से जानकारी मिल जाएगी, लेकिन हम यहां इन्हें एक साथ आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं।

पहला तरीका

यह तरीका काफी सरल है, जिसके जरिए आप अपना आधार कार्ड आसानी से हासिल कर सकते हैं। हालांकि, यह तरीका आपको डिजिटल आधार कार्ड मुहैया कराने में मदद करेगा, लेकिन आपका काम जरूर बन जाएगा।

  • सबसे पहले आप इस लिंक पर जाएं – https://resident.uidai.gov.in/find-uid-eid
  • इसमें सबसे पहले आप अपना नाम डालें।
  • इसके बाद अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी डालें।
  • इसको पूरा करने के बाद आपको सब्मिट करना होगा।
  • सब्मिट पूरा होने के बाद आपके पास एक OTP आएगा।
  • जिसे वेबसाइट पर डालने के बाद आप अपना आधार कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

दूसरा तरीका

यह भी एक आसान तरीका है, जिसे आप मात्र मोबाइल की मदद से प्रयोग में ला सकते हैं। इसके लिए आपको इंटरनेट या किसी वेबसाइट पर जाने की भी जरूरत नहीं होगी। हालांकि, इसके लिए आपके पास सबसे पहले 14 नंबर का इनरोलमेंट (Enrollment no.) होना जरूरी है।

  • इसके लिए सबसे पहले आप अपना रजिर्स्ड मोबाइल नंबर वाला फोन हाथ में लें।
  • इसके Write to Message में जाकर UID STATUS<14 digit enrollment no.> लिखें।
  • उदाहरण के तौर पर UID STATUS 12345678901234 की तरह अपना 14 अंकों का enrollment no. लिखें।
  • ध्यान रहे कि आपका 14 अंक का नंबर बिल्कुल ठीक होना चाहिए।
  • दोबारा चैक करने के बाद आप इस मैसेज को 51969 पर भेज दें।

कई बार हम कहीं ऐसे कामों में फंस जाते हैं, जहां आधार कार्ड का नंबर आपको तुरंत चाहिए होता है। ऐसे में यह तरीका सबसे कारगर होता है। अपने आधार का यूनिक आईडी नंबर हासिल करने पर आपको किसी भी फार्म या सरकारी दस्तावेजों को जमा करने में कभी देरी नहीं होगी।

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer