Luxury Cruise Se Kar Sakenge Goa Ka Didar, Janiye Kaise | NightBulb.in

लग्जरी क्रूज से कर सकेंगे गोवा का दीदार, जानिए कैसे

जरा सोचिए अगर आपको गोवा पहुंचने के लिए लग्जरी क्रूज पर सफर करने का मौका मिल जाए। गोवा पहुंचने से पहले आप 14 घंटे का वक्त क्रूज पर लग्जरी सुविधाओं के साथ गुजारें और क्रूज पर रहते हुए सनसेट और सनराइज भी देख पाएं। कोई भी इस लग्जरी लाइफ को जीने के लिए मना नहीं करेगा। दरअसल, मोदी सरकार ने हाल ही में भारत का पहला डोमेस्टिक क्रूज मुंबई से गोवा के बीच शुरू किया है, जो आपको लग्जरी लाइफ जीने का मौका देगा। इसकी कमर्शियल तौर पर ओपनिंग 24 अक्टूबर से है। यह क्रूज क्यूं है खास? क्या-क्या मिलेंगी सुविधाएं। आइए आपको बताते हैं।

क्रूज का नाम है Angriya

गोवा के बीच (Beach) दुनिया भर में मशहूर हैं। यह भारत का सबसे बड़ा टूरिस्ट केंद्र भी माना जाता है। ऐसे में केंद्र सरकार के परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से इस क्रूज की शुरूआत की है। यह टूरिज्म बढ़ाने में भी मदद देगा, साथ ही गोवा की चाह रखने वालों को लग्जरी लाइफ जीने का मौका भी देगा।

इस क्रूज का नाम Angriya रखा गया है। इसकी टिकट वीवीआईपी भी है, तो कम कीमत में सफर करने वाले भी इस लग्जरी क्रूज की यात्रा कर सकते हैं। इसकी टिकट 4,300 से 12,000 रुपये है। टिकट बुकिंग के लिए छह चरण आपको पूरे करने होंगे। क्रूज में आठ कैटेगरी में कमरे के स्तर को बांटा गया है। यह हफ्ते में चार दिन चलाने की प्लानिंग की जा रही है, जोकि मुंबई से गोवा के बीच चलाया जाएगा।

क्रूज पर मिलेंगी यह सुविधाएं

इस पूरे क्रूज का सफर 14 घंटे का होगा। क्रूज पर सफर दोपहर बाद ही होगा, ताकि क्रूज पर सफर करने वाले लोग सनसेट (Sunset) और सनराइज (Sunrise) का नजारा ले सकें। क्रूज पर दो रेस्टोरेंट, आठ बार (Bar) और एक लॉन्ज (Lounge) भी है। इतना ही नहीं, स्वीमिंग पूल और स्पा जैसी लग्जरी सुविधा भी क्रूज पर मौजूद है।

इन बातों का रखना होगा आपको ध्यान

  • क्रूज का सफर करने के लिए आपको इन बातों का ध्यान जरूर रखना होगा। क्रूज पर आपको इंटरनेट की सुविधा नहीं मिलेगी। मोबाइल नेटवर्क पर ही आपको निर्भर रहना होगा।
  • आप अपने साथ 25 किलो सामान ही लेकर जा सकते हैं। हालांकि, 10 किलो आप अपने पर्सनल बैग में भी लेकर जा सकते हैं।
  • 6 महीने से अधिक प्रैग्नेंट महिलाओं की क्रूज पर एंट्री नहीं होगी। इतना ही नहीं, एक साल से कम उम्र के बच्चों पर प्रतिबंध है।

त्रिभुवन शर्मा ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत द टाइम्स ऑफ इंडिया ग्रुप के हिंदी अख़बार "सांध्य टाइम्स" के साथ साल 2013 में की थी. 4 साल अख़बार में हार्डकोर जर्नलिज्म को वक़्त देने के बाद उन्होंने Nightbulb.in को 2018 में लॉन्च किया

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer