Kaisa Hona Chahiye Baccho ka Lunch Box

कैसा होना चाहिए बच्चों का लंच बॉक्स, ताकि रह सकें हेल्दी

क्या आप जानते हैं कि आपके बच्चे का लंच बॉक्स आपके बच्चे को स्वस्थ रखने में सबसे बड़ी भूमिका निभाता है। लंच बॉक्स यानी सुबह का खाना और सुबह का खाना पोष्टिक होना जरूरी होता है। पौराणिक ग्रंथों में भी इसका जिक्र किया गया है कि सुबह का खाना पोष्टिक होने से उम्र बढ़ती होती है और शरीर स्वस्थ रहता है।

लेकिन आजकल मां-बाप बच्चों के लंच बॉक्स को हेल्दी बनाने की बजाय उसमें तरह – तरह के व्यंजनों को दे रहे हैं, जिसका नुकसान खुद बच्चे उठा रहे हैं। हाल ही में आई एक रिपोर्ट चौंकाने वाली है, जिसमें कहा गया है कि मां-बाप द्वारा ध्यान न दे पानें की वजह से बच्चों के शुगर लेवल में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। मां-बाप बच्चों के लंच बॉक्स में जेम सेंडविच, जूस के पाउच आदि रख देते हैं। जिसका नुकसान यह होता है कि लगभग 25 ग्राम शुगर हर लंच बॉक्स से बच्चों को मिल रही है। ऐसे में यह ध्यान देना बेहद जरूरी है कि हमें बच्चों को खाने में क्या देना चाहिए।

आइए जानते हैं कि बच्चों के लंच बॉक्स को हेल्दी डाइट से भरपूर करने के लिए किन बातों पर ध्यान देना चाहिए, ताकि आपके बच्चे की ग्रोथ बनी रहे।
Night Bulb- Hindi Blog I Kaisa Hona Chahiye Baccho ka Lunch Box

– अगर आप बच्चों को जूस देना चाहते हैं, तो ध्यान रखे वह जूस कंपनी की बजाय असली फलों द्वारा बनाया गया हो। लेकिन फिर भी कंपनी का जूस देना आपकी मजबूरी है, तो आप कम शुगर वाले जूस को बच्चों के लंच बॉक्स में रखें।

– सेंडविच में बच्चे को हरी सब्जियां डालकर दें। सेंडविच में टमाटर, खीरा आदि को तवज्जों दें। लो फेट वाली चीज क्रीम भी सेंडविच में डाल सकते हैं।

– अगर आप नॉनवेजिटेरियन हैं, तो सेंडविच मे अंडे या उबला हुआ चिकन भी काटकर डाल सकते हैं।

– इतना ही नहीं, सेंडविच बनाने के लिए ब्राउन ब्रैड का प्रयोग करें, ताकि वजन को कम रखने में मदद मिल सके।

– बच्चे को रोजाना पराठे और रोटियां न दें। कभी-कबार बच्चे को फ्रूट चाट या सब्जियों की चाट बनाकर दें, ताकि बच्चे न सिर्फ शरीर से स्वस्थ रहे, बल्कि क्रूयोसिटी को बढ़ाने में मदद मिल सके। दरअसल, अलग- अलग दिन अलग-अलग तरह के खाने से भरा लंच बॉक्स मिलने से बच्चों में क्रूयोसिटी बनी रहती है।

– उबले अंडे और ऑमलेट लंच बॉक्स में देने से बच्चे की शुगर की मात्रा कम रहती है। साथ ही हड्डियों को मजबूती मिलती है।

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer