चीन की वैक्सीन है या सीवर का पानी ?

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कोरोना पॉ​जीटिव पाए गए हैं. जबकि उन्होंने दो ही दिन पहले चाइना द्वारा बनाई गई कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली थी. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का वैक्सीन लेने के बाद कोरोना संक्रमित होना पाकिस्तान की आवाम के लिए परेशानी का सबब बनता दिखाई दे रहा है और कोरोना महामारी के बीच दुनिया के लिए आस बने भारत को पाकिस्तान की आवाम अब देख रही है.

https://youtu.be/gCzjmhfGdPY
पाकिस्तान के भारत के साथ संबंध अच्छे नहीं हैं और चीन के अलावा किसी और देश से कोरोना वैक्सीन की खेप लेने की पाकिस्तान की औकात नहीं है. इसका मतलब यह भी नहीं है कि पाकिस्तान चीन से वैक्सीन खरीद रहा है, बल्कि चीन ने पाकिस्तान को दोस्त होने के नाते कुछ लाख वैक्सीन दी हैं.

हालांकि, भारत का रुख पहले दिन से साफ है और वो ये है कि भारत अपने पड़ोसी दोस्तों का पहले ख्याल रखेगा और जैसा की आप जानते हैं कि आतंकवादी ​गतिविधियों की वजह से भारत ने पाकिस्तान से दोस्ती तोड़ दी है, बल्कि दो बार कूट भी दिया है, तो पाकिस्तान पिटने के बाद कोरोना की वैक्सीन कैसे मांग ले.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के कोरोना संक्रमित होने के बाद से पाकिस्तान की आवाम अब जरूर परेशान हो रही होगी कि जिस दोस्त पर अपने आप से भी ज्यादा भरोसा किया, वो तो दरअसल वैक्सीन की बोतल में पानी की सप्लाई कर रहा है, जिसे उनकी सरकार खुशी खुशी ले भी रही है. ​जबकि भारत दुनिया की नजर में इस वक्त एकमात्र ऐसा मुल्क है, जो सबसे इफेक्टिव वैक्सीन दुनिया को दे रहा है. इससे ना सिर्फ भारत का दुनिया में कद बढ़ा है, बल्कि कटोरा हाथ में लेकर चलने की परंपरा अब उल्टी हो गई है. यानी कई विकसित देश कटोरा हाथ में लिए हुए हैं और भारत इस वक्त दान देकर पुण्य कमा रहा है.

Leave a reply:

Your email address will not be published.

Site Footer